दशम भाव में ग्रहों की स्थिति और रोजगार (Occupation and Planets in Tenth house)



ज्योतिष का आधार ग्रह और राशियां हैं. इन्हीं से ज्योतिष में फलित का विचार किया जाता है. रोजगार अथवा कैरियर के विषय में दशम भाव से विचार किया जता है.
दशम भाव व्यवसाय के निर्धारण में सहायता के लिये अत्यन्त महत्व पूर्ण है.  इस भाव में जो ग्रह होते हैं उनके आधार पर रोजगार एवं कारोबार का विश्लेषण किया जाता है.

सूर्य दशम भाव में (Sun in Tenth House)
नवग्रहों में राजा सूर्य को माना गया है.अगर यह दशम भाव में कारक बनकर मौजूद है तो आपको सरकारी नौकरी के लिए प्रयास करना चाहिए आपको सरकारी क्षेत्र में अच्छी नौकरी मिल सकती है.आप राजकीय सुख प्राप्त कर सकते हैं.आप व्यापार की इच्छा रखते हैं तो दवाईयों का कारोबार कर सकते हैं.सोना चांदी एवं लकड़ी का कारोबार भी आपके लिए लाभप्रद रहेगा.आप अनाज का कारोबार भी बखूबी कर सकते हैं.

चंद्र दशम भाव में (Moon in Tenth House)
दशम भाव में चन्द्रमा कारक ग्रह के रूप में मौजूद है तो आप जल विभाग, समुद्री विषयो, टूरिज्म के क्षेत्र में सफल हो सकते हैं.आपके लिए डेयरी का कारोबार, कृषि सम्बन्धी कार्य, कपड़ों का व्यापार, नर्सरी का काम एवं शराब का ठेका लाभप्रद होगा.

मंगल दशम भाव में (Mars in Tenth House)
मंगल सेनापति है.दशम भाव में मंगल के होने पर सेना अथवा पुलिस विभाग में आपके लिए बेहतर अवसर हो सकता है.बिजली का काम, सोने का काम, लाहे का काम एवं शस्त्रों का व्यापार कर सकते हैं.बर्तन का कारोबार कर सकते हैं.आप चाहें तो भवन निर्माण के सामान का भी कारोबार कर सकते हैं.दवाईयों की दुकान भी आप चाहें तो खोल सकते हैं.

बुध दशम भाव में (Mercury in Tenth House)
नवग्रहों का राजकुमार बुध दशम भाव में होने पर आप बैंक में अपने लिए संभावना तलाश सकते हैं.आप बीमाकर्ता, चित्रकार, लेखक, संपादक के तौर पर भी अपने लिए सुनहरा भविष्य तैयार कर सकते हैं.शिक्षण, वकालत, एकाउंटेंट एवं पत्रकारिता में भी आपको अच्छी सफलता मिल सकती है.

गुरू दशम भाव में (Jupiter in Tenth House)
नवग्रहों के मंत्री हैं गुरू बृहस्पति.दशम भाव में इनकी उपस्थिति होने से आप प्राशासनिक सेवा में शामिल हो सकते हैं.शिक्षक के तौर पर कैरियर बना सकते हैं.ज्योतिषशास्त्री एवं दर्शनशास्त्री के रूप में भी आप सफल हो सकते हैं.आप वकालत भी कर सकते हैं.व्यापार में भी आप सफल हो सकते हैं.

शुक्र दशम भाव में (Venus in Tenth House)
शुक्र ग्रहों की सुन्दरता का प्रतीक है.अपने गुण के अनुसार दशम भाव में इसकी उपस्थिति होने पर यह कला एवं संगीत के क्षेत्र में बेहतर कैरियर का संकेत देता है.सौन्दर्य और फैशन उद्योग में दशम भाव का शुक्र सफलता दिलाता है.मनोरंजन एवं अभिनय जगत में यह ख्याति दिलाता है.व्यापार की इच्छा रखने वालों को कौस्मैटिक्स, फूलों एवं वस्त्रों का कारोबार करना लाभप्रद होता है.

शनि दशम भाव में (Saturn in Tenth House)
नवग्रहो का दंडाधिकारी शनि देव हैं.कार्य भाव में इनकी उपस्थिति है तो आपको अपना कैरियर न्याय विभाग एवं राजनीति में तलाशना चाहिए.परिवहन, डाक तार विभाग, पुलिस विभाग में आपके लिए बेहतर संभावना रहती है. लोहे का व्यापार, कोयला, तेल एवं होटल का कारोबार भी आपके लिए लाभप्रद होता है.

राहु दशम भाव में  (Rahu in Tenth House)
नवग्रहों में राहु छाया ग्रह के रूप में है.दशम भाव में राहु की उपस्थिति होने पर राजनीति में प्रयास करना लाभप्रद होता है.बिजली से सम्बन्धित कार्य, जहरीली वस्तुओं का कारोबार इनके लिए फायदेमंद होता है.साहित्य एवं दर्शन के क्षेत्र में भी कामयाबी मिलने की पूरी संभावना रहती है.

केतु दशम भाव में (Ketu In Tenth House) 
राहु के समान केतु भी छाया ग्रह है.कुण्डली के दशम भाव में इसकी उपस्थिति होने से आप न्याय विभाग में प्रयास कर सकते हैं.व्यापार आपके लिए विशेष लाभप्रद हो सकता है.धर्मशास्त्री के रूप में भी आप सफल हो सकते हैं.कांच का कारोबार आपको लाभ देता है.

Tags

Categories


Please rate this article:

5.00 Ratings. (Rated by 1 people)


Write a Comment

View All Comments

5 Comments

1-10 Write a comment

  1. 29 October, 2010 05:00:55 PM Swapna

    Dear Sir Mear sinha laggan hai aur mere dasham bhav mai koi bhi grah nahi hai to mai kounse rojgar ka chunav karu.

  2. 24 October, 2009 06:58:13 AM amardeep

    sir please send me my future detail my dob 07/10/1981,time-1:05am,dehradun

  3. 06 April, 2009 10:31:18 PM shelly

    relevent&useful topic i m learning astrology it has given me very right path to work&research

  4. 04 April, 2009 02:13:35 PM vipan

    very excellent chapter

  5. 22 March, 2009 08:17:31 PM rajesh jhala

    please send me my future detail