राशि के अनुसार रोजगार का चुनाव (Rashi and Occupation)



मेष राशि (Aries Occupation)
मेष राशि का स्वामी मंगल है. जन्मपत्री के दशम भाव में मेष राशि है तो आपको साहसिक कार्यों में सफलता आसनी से मिलती है.आपके लिए रक्षा विभाग, पुलिस विभाग, धातु से सम्बन्धित कार्य, राजनीतिक एवं प्रशासिक कार्य एवं चिकित्सक का पेशा लाभकारी और अनुकूल परिणाम देने वाला होता है.पत्रकारिता के क्षेत्र में भी आपको कामयाबी मिलती है.

वृष राशि (Taurus Occupation)
शुक्र वृष राशि का स्वामी होता है.आपकी कुण्डली के दशम भाव में वृष राशि है तो आपको संगीत, सौन्दर्य प्रशाधन, मीडिया में रोजगार की तलाश करनी चाहिए.आपके लिए बैंक की नौकरी, विज्ञापन का कार्य, इलैक्ट्रॉनिक्स का काम लाभप्रद होता है.वाणिज्य के क्षेत्र में भी आपको सफलता मिलती है.

मिथुन राशि (Gemini Occupation)
मिथुन राशि का स्वामी बुध ग्रह होता है.आपकी कुण्डली के दशम भाव में मिथुन राशि हैं तो आपको अपना कैरियर मीडिया में बनाना चाहिए.आपके लिए इंजीनियरिंग, शिक्षण, लेखन एवं अनुवादक का कार्य भी उत्तम रहने वाला है.आप संपादक और साहित्यकार भी बन सकते हैं.

कर्क राशि (Cancer Occupation)
चन्द्रमा कर्क राशि का स्वामी है.यह राशि दशम भाव में है तो चिकित्सक का पेशा आपके लिए लाभप्रद रहेगा.होटल का कारोबार, बेकरी का काम, पशुपालन का कार्य आपको लाभ देगा. चाय  काफी का कारोबार भी आपके लिए फायदेमंद रहेगा.

सिंह राशि (Leo Occupation)
सूर्य सिंह राशि का स्वामी होता है.आपकी कुण्डली के दशम भाव में सिंह राशि है तो आपको प्रशासनिक क्षेत्र में रोजगार की तलाश करनी चाहिए.आपके लिए शेयर का कारोबार, आभूषण का काम, दबाईयों का कारोबार कामयाबी दिलाने वाला होगा.आप फिल्मोद्योग में भी सफल हो सकते हैं.

कन्या राशि (Virgo Occupation)
कन्या राशि का स्वामी बुध ग्रह होता है.आपकी जन्मपत्री में अगर कन्या राशि दशम भाव में है तो आप एकाउंटेंट बन सकते हैं.आप क्लर्क, चिकित्सक, मनोवैज्ञानिक, वायुयान चालक, लेखक, सम्पदाक हो सकते हैं.आप चाहें तो व्यापार भी कर सकते हैं.डाक विभाग की नौकरी एवं कलम कापी की दुकान भी आपके लिए बेहतर लाभ देने वाला होगा.

तुला राशि (Libra Occupation)
आपकी कुण्डली के दशम भाव में तुला राशि है.इस राशि का स्वामी शुक्र है.आपके लिए न्याय विभाग में बेहतर संभावना है.आप अभिनय, गायन, फैशन उद्योग, छाया चित्रकार के रूप में भी कैरियर बना सकते हैं.फर्नीचर का कारोबार, होटल का कारोबार, दर्जी का काम भी आपके लिए लाभप्रद रहेगा.

वृश्चिक राशि (Scorpio Occupation)
कुण्डली का दशम भाव कार्य भाव के रूप में जाना जाता है.इस भाव में वृश्चिक राशि है.इस राशि का स्वामी मंगल है.आप पुलिस विभाग, रक्षा विभाग, रेलवे, दूर संचार विभाग में कैरियर की तलाश कर सकते हैं.आप नाविक, बीमा कर्ता एवं चिकित्सा के क्षेत्र में भी प्रयास कर सकते हैं.मशीनरी कार्यों में भी आपको लाभ मिलेगा.

धनु राशि (Sagattarus Occupation)
आपकी कुण्डली के दशम भाव में 9 अंक लिखा है तो इस भाव में धनु राशि है.इस राशि का स्वामी गुरू है.अगर खेल के प्रति लगाव है तो आप खेल को कैरियर के रूप में ले सकते हैं.आप वकालत अथवा लेखापाल के तौर पर भी कार्य कर सकते हैं.शिक्षा के क्षेत्र में भी आप कामयाबी हासिल कर सकते है.धर्म प्रचारक एवं धर्म गुरू के रूप में भी आप ख्याति प्राप्त कर सकते हैं.

मकर राशि (Capricorn Occupation)
मकर राशि का स्वामी शनि होता है.आपकी कुण्डली के दशम भाव में 10 राशि यानी मकर बैठा हुआ है.आप खान में काम कर सकते हैं.कृषि विभाग एवं धातु से सम्बन्धित कार्य भी आपके लिए अनुकूल रहेगा.लकड़ी का कारोबार एवं लोहे से सम्बन्धित कारोबार भी आपके लिए लाभप्रद रहेगा.

कुम्भ राशि (Aquarius Occupation)
कुम्भ राशि का स्वामी भी शनि ग्रह है.आपकी कुण्डली में कुम्भ राशि कार्य भाव में है.आप बिजली विभाग में प्रयास कर सकते हैं.आपके लिए सलाहकार, अभियंत्रिकी, चिकित्सा, ज्योतिष का क्षेत्र लाभप्रद है.आप तकनीकी क्षेत्र में भी कैरियर की तलाश कर सकते हैं.वायुयान से सम्बन्धित क्षेत्र भी आपके लिए लाभप्रद रहेगा.

मीन राशि (Pices Occupation) 
कुण्डली में अंक 12 मीन राशि का संकेत है.इस राशि का स्वामी गुरू होता है.आपकी कुण्डली के दशम भाव में मीन राशि है.आप अपना कैरियर लेखक, संपादक, चिकित्सक, धर्म प्रचारक के रूप में बना सकते हैं.आप फिल्म और मनोरंजन के क्षेत्र में अथवा जासूसी में भी संभावनाओं की तलाश कर सकते हैं.

Tags

Categories


Please rate this article:

2.50 Ratings. (Rated by 1 people)