आर्थिक घाटे का एक कारण पंचम शनि (Pancham Shani Causes Financial Losses)



शनि की साढेसाती (Shani Sade Sati) व ढैया (Shani Dhaiya) के आर्थिक मामलों के लिए अच्छा नही समझा जाता है. इसके अतिरिक्त शनि की एक और स्थिति है जो आर्थिक स्थिति के सबसे अधिक प्रभावित करती है. जिसे पंचम शनि (Pancham Shani) के नाम से जाना जाता है.
कुण्डली मे चन्द्र से पांचवे घर मे शनि के गोचर करने के पंचम शनि (Pancham Shani) का नाम दिया गया है.

सामान्य रुप से कुण्डली पांचवे घर क उच्च शिक्षा, संतान व प्रेम प्रसंग का घर माना जाता है. ज्योतिषिय अध्ययन से यह ज्ञात हुआ है की आर्थिक रुप से देखने पर शनि की साढेसाती (Shani Sade Sati) व ढैया (Shani Dhaiya) से भी अधिक कष्टकारी है  शनि का चन्द्र से पांचवे घर पर गोचर करना है.

पांचवे घर मे शनि को इसलिए आर्थिक रुप से अच्छा नही समझा जाता है. क्योंकी पांचवे घर से शनि अपनी तीसरी दृष्टि से सांतवे घर के देखते है. जो साझेदारी व्यापार का घर है. शनि के देखने से इस घर से मिलने वाले शुभ फलों मे कमी आती है. और साझेदारी व्यापार लाभ के स्थान पर हानि देने की स्थिति मे आ जाता है.

शनि की सांतवी दृष्टि ग्यारहवे घर जिसे आय का घर कहते है. पर होने से व्यक्ति की आय मे कमी होती है. आय रुक रुक कर आती है. तथा बडे भाईयों से भी संबध खराब होते है. व्यक्ति के अपनी मेहनत का पूरा फल न मिल पाने के कारण व्यक्ति निराशा मे घिर जाता है. और अपनी मेहनत मे कमी करने लगता है. जो उसकी बर्बादी की पहली सीढी बनता है.

पांचवे घर पर शनि के गोचर मे शनि अपनी दसंवी दृष्टि से दूसरे घर के देखता है. दूसरा घर धन का घर है. इससे व्यक्ति के संचय के देखा जाता है. इस घर मे शनि के गोचर से पूरे ढाई साल तक व्यक्ति के धन प्राप्ति की संभावनाएं मात्र स्वपन बनकर रह जाती है.

यह भी देखने मे आया है की ढाई वर्ष के समाप्त होते होते व्यक्ति ऋण के नीचे इस कदर दब जाता है की स्थिति चिन्ताजनक हो जाती है. जिस प्रकार शनि की साढेसाती (Shani Sade Sati) व ढैया  (Shani Dhaiya) की अवधि आर्थिक मामलों के लिए लाभ दायक भी हो सकती है . उसी प्रकार पंचम शनि (Pancham Shani) भी लाभ दायक हो सकते है. परन्तु शनि से मात्र लाभ की कामना करना दिन मे तारे तलाशने के समान है.

Tags

Categories


Please rate this article:

5.00 Ratings. (Rated by 1 people)


Write a Comment

View All Comments

0 Comments

1-10 Write a comment

  1. 21 October, 2010 04:35:13 PM rahulsharma

    guru ji mare kundli me pancham sthan me sani aur budh baitha hai kya mai jeevan bhar aarthik kathnaiyon me rahoonga meri kundli mesh lagan ki hai krpiya marg darshan kijiye

  2. 16 September, 2010 04:12:32 PM anu

    many apnay papa kay baray pushna hai name rajpal sharma hai janam 12 march wo tention may rahtay hai kisi say bat nahi kartay sara din drink peetay hai koi upay batao ki wo drink na peen

  3. 01 September, 2010 10:20:42 PM satish sinha

    mujhe bypar me hani ho rahi hai mai karj me dub gya hu kirpya upay btay bywsay furnuter

  4. 19 August, 2010 08:25:04 AM KUNAL ANAND

    SIR MY SSB INTERVIEW IS ON 22 NOV 10. IS THERE ANY CHANCE TO GET SUCESS.

  5. 15 December, 2009 03:44:12 AM kapil kumar

    mera birth 22/11/1975 hai aap ka yeh lekh paad kae kaffi accha laga kaffi kuch meri rashi se male khata hai

  6. 24 November, 2009 03:52:21 AM Ratan kumar

    mera original Dob. nahi malum hai (01/02/1972) mujhe hamesa economical problem rahta hai. pls. advice me.

  7. 16 November, 2009 05:37:45 PM nagesh

    I am glad to see your work. I am a journalist & i am intrested in astrology so plz you advise me about better software for astrology.

  8. 16 November, 2009 09:23:54 AM deepak sharma

    main jyotishshastra ka gyan lena chahata hu.plz mare help kigiye.

  9. 10 October, 2009 03:04:16 PM Sanjeev

    Meri DOB 6-7-1980 hai kripya bataiye mera uper shani ki kya status hai

  10. 05 October, 2009 01:47:13 PM manoj shrimali

    pandit ji muje ye batane ka kasht kare ki kya pancham shai se aapka matlab yeh hai ki shani pachve ghar me betha ho...