सोये ग्रह के लिये उपाय - Lal Kitab Remedies for Sleepy Planets

लाल किताब के अनुसार जिस घर में कोई ग्रह न हो तथा जिस घर पर किसी ग्रह की नज़र नहीं पड़ती हो उसे सोया हुआ घर माना जाता है.

लाल किताब का मानना है जो घर सोया (Lal Kitab Sleepy Planets) होता है उस घ्रर से सम्बन्धित फल तब तक प्राप्त नहीं होता है जबतक कि वह घर जागता नहीं है. लाल किताब में सोये हुए घरों को जगाने के लिए कई उपाय (Lal Kitab Remedies) बताए गये हैं.

जिन लोगों की कुण्डली में प्रथम भाव सोया हुआ हो उन्हें इस घर को जगाने के लिए मंगल का उपाय करना चाहिए. मंगल का उपाय करने के लिए मंगलवार का व्रत करना चाहिए. मंगलवार के दिन हनुमान जी को लडुडुओं का प्रसाद चढ़ाकर बांटना चाहिए. मूंगा धारण करने से भी प्रथम भाव जागता है.

अगर दूसरा घर सोया हुआ हो तो चन्द्रमा का उपाय शुभ फल प्रदान करता है. चन्द्र के उपाय के लिए चांदी धारण करना चाहिए. माता की सेवा करनी चाहिए एवं उनसे आशीर्वाद प्राप्त करना चाहिए. मोती धारण करने से भी लाभ मिलता है.

तीसरे घर को जगाने के लिए बुध का उपाय करना लाभ देता है. बुध के उपाय हेतु दुर्गा सप्तशती का पाठ करना चाहिए. बुधवार के दिन गाय को चारा देना चाहिए.

लाल किताब के अनुसार किसी व्यक्ति की कुण्डली में अगर चौथा घर सोया हुआ है तो चन्द्र का उपाय करना लाभदायी होता है.

पांचवें घर को जागृत करने के लिए सूर्य का उपाय करना फायदेमंद होता है. नियमित आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ एवं रविवार के दिन लाल भूरी चीटियों को आटा, गुड़ देने से सूर्य की कृपा प्राप्त होती है.

छठे घर को जगाने के लिए राहु का उपाय करना चाहिए. जन्मदिन से आठवां महीना शुरू होने पर पांच महीनों तक बादाम मन्दिर में चढ़ाना चाहिए, जितना बादाम मन्दिर में चढाएं उतना वापस घर में लाकर सुरक्षित रख दें. घर के दरवाजा दक्षिण में नहीं रखना चाहिए. इन उपायों से छठा घर जागता है क्योंकि यह राहु का उपाय है.

सोये हुए सातवें घर के लिए शुक्र को जगाना होता है. शुक्र को जगाने के लिए आचरण की शुद्धि सबसे आवश्यक है.

सोये हुए आठवें घर के लिए चन्द्रमा का उपाय शुभ फलदायी होता है.

जिनकी कुण्डली में नवम भाव सोया हो उनहें गुरूवार के दिन पीलावस्त्र धारण करना चाहिए. सोना धारण करना चाहिए व माथे पर हल्दी अथवा केशर का तिलक करना चाहिए. इन उपाय से गुरू प्रबल होता है और नवम भाव जागता है.

दशम भाव को जागृत करने हेतु शनिदेव का उपाय करना चाहिए.

एकादश भाव के लिए भी गुरू का उपाय लाभकारी होता है.

अगर बारहवां घ्रर सोया हुआ हो तो घर मे कुत्ता पालना चाहिए. पत्नी के भाई की सहायता करनी चाहिए. मूली रात को सिरहाने रखकर सोना चाहिए और सुबह मंदिर मे दान करना चाहिए.

Tags

Categories


Please rate this article:

3.50 Ratings. (Rated by 1 people)


Write a Comment

View All Comments

15 Comments

1-10 Write a comment

  1. 06 December, 2010 09:53:18 AM shoaib kmalik

    mai janna chata hoon ki meri kundali main kounsa ghar aur grahe soya huya hai please mere email par bhej di jiye mere janam tithi hai 17-09-1963 10:38am mumbai bahut dhanyabad

  2. 01 December, 2010 09:55:28 AM dinesh

    main janana chata hoon ki meri kundli main konsa soya ghar hai janam titihi 20.10.1983, time 9.03 am, place jodhpur reply me

  3. 30 November, 2010 07:02:46 AM gunjan rathod

    Namaste,kya aap bataa sakte he ki kumar yog kya hotaa he,muje mail kare please dhanyavad

  4. 16 November, 2010 04:21:18 PM pawan kumar jha

    mera bhavishya kya hai. mujhe mera janam savan mahina me chaturthi sa roj subah 4 baje hua hai. mujhe date nahi pata hai. kripiya mujhe upay batain regards pawan kumar

  5. 15 November, 2010 12:57:50 PM Rajesh Pathak

    Adarniya.meri dob-03.05.1962 hai avm janm subah 08:30 baaze ka hai.meri kundali me kaun sa kalsarp yog hai aur eska bachaav kya hai kripa kar ke bataye.mai bahut pareshaan hu.

  6. 15 November, 2010 06:07:47 AM Poornendra Vikram Shukla

    I am born on 4.6.60 working at Gulf .I want to work and stay with my family at canada.Please let me know weather It will be good or not.I will get good job or not as per lal Kitab.

  7. 11 November, 2010 11:00:07 AM bijender

    kya bina time ka bhi janam kundli ka pata lag jata hi

  8. 26 October, 2010 05:44:03 PM KARUN SAXENA

    DOB 03.11.1974 Time 08.30 pm WHEN WILL I BUY MY HOME ?

  9. 18 October, 2010 02:10:08 PM Ravi Rajput

    Name = Ravi RajputDOB = 23.5.1981Time = 3:00 PMDate of Place= New Delhi (Hari Nagar Ashram)My career and Education

  10. 16 October, 2010 06:54:43 PM Rakesh saxena

    meri patni ki tabiyat theek nahi reheti haius ke swasthay labh ke baare me bataye. us ki DOB 03/09/1959. time: 06:15pm. birth place Allahabad.va meri janam tithi 10/05/1954 time:4:55am birth place shahjahanpur [up]