Home | रत्न सलाह | राशि रत्न खरीदें परखकर (Check Gemstone before Purchase)

राशि रत्न खरीदें परखकर (Check Gemstone before Purchase)

Font size: Decrease font Enlarge font
रत्नों का गोरखधंधा
मनुष्य की सहज प्रकृति है कि वह हमेशा सुख में जीना चाहता है परंतु विधि के विधान के अनुसार धरती पर ईश्वर भी जन्म लेकर आता हे तो ग्रहों की चाल के अनुसार उसे भी सुख दु:ख सहना पड़ता है.हम अपने जीवन में आने वाले दु:खों को कम करने अथवा उनसे बचने हेतु उपाय चाहते हैं.उपाय के तौर पर अपनी कुण्डली की जांच करवाते हैं और ज्योतिषशात्री की सलाह से पूजा करवाते हैं, ग्रह शांति करवाते हैं अथवा रत्न धारण करते हैं.रत्न पहनने के बाद कई बार परेशानियां भी जाती हैं अथवा कोई लाभ नहीं मिल पाता है.इस स्थिति में ज्योतिषशास्त्री के ऊपर विश्वास डोलने लगता है.जबकि हो सकता है कि आपका रत्न सही नहीं हो.वास्तव में रत्न खरीदते समय काफी समझदारी से काम लेना चाहिए क्योंकि असली और नकली रत्नों में काफी समानता रहती है जिससे गोरख धंधा के आप शिकार हो सकते हैं.

रत्नों की खरीद
रत्न अपरिचित स्थान से नहीं खरीदना चाहिए.रत्न खरीदते समय ध्यान रखना चाहिए कि व्यक्ति विश्वसनीय एवं रत्नों का जानकर हो.रत्न खरीदने से पहले बाज़ार भाव का पता कर लेना इससे रत्न की सत्यता और मूल्य का वास्तविक अनुमान भी मिल जाता है.रत्न अगर टूटा हुआ हो अथवा उसमें दाग़ धब्बा हो तो कभी नहीं खरीदना चाहिए.इन रत्नों का प्रभाव कम होता है और कुछ स्थितियों में प्रतिकूल परिणाम भी देता है.

रत्नों के रंग
रत्नों को खरीदते समय उनके रंगों पर भी ध्यान देना चाहिए.सम्पूर्ण रत्न का रंग एक होना चाहिए.फीका और मंद रंग वाले रत्न की अपेक्षा झलकदार और आभायुक्त रत्न अधिक गुणवत्ता वाले और मूल्यवान होंते हैं.इसका तात्पर्य यह नही है कि रत्न का रंग बहुत अधिक गहरा होना चाहिए.अत्यधिक गहरा रंग भी रत्नों की गुणवत्ता को कम करते हैं.रंगों से भी असली और नकली रत्नों की पहचान होती है जिसकी जांच स्पेक्ट्रोमस्कोप द्वारा की जाती है.

रत्न में पारदर्शिता
पारदर्शिता रत्नों की खास विशेषता है.जो रत्न जितना पारदर्शी होता है उतना ही उच्च स्तर का माना जाता है और उसी के अनुरूप उसकी कीमत भी होती है.अपवाद के रूप में मूंगा ऐसा रत्न है जो अपारदर्शी होते हुए भी मूल्यवान होता है.रत्नों की पारदर्शिता में अंतर प्राप्ति स्थान के आधार पर होता है.अलग अलग स्थान से प्राप्त रत्नों में झीरम की मात्रा में अंतर के आधार पर पारदर्शिता में विभेद होता है.

Comments (8 posted):

Kaushal Kant Joshi on 02 June, 2010 10:15:41
avatar
Is there any Govt. agency selling ratnas in Delhi tell complete list via mail to me. Please.
rinki bharti on 10 August, 2010 04:46:35
avatar
hum kaise pahchan sakte h ki koi bhi ratna assli h ya nakli kirpya answer mere id par bheje
dharmendra on 28 September, 2010 05:35:39
avatar
namaskar ji

ji muje apni janam raasi pata nhi hai. naam ke hisaab se meri raasi dhanu hai kiya? mai kis raasi ko apni raasi maanu aor koun sa ratn phihnu? aor kaha se sahi ratn milega kirpiya sahi jaan karni de aor kaha ke ratn karido ye bhi bataye aap muje e mail karsakte hai
madan khatik on 03 November, 2010 05:27:41
avatar
sir,
meri rashi LEO hai, muje nokri nhi mil rahi hai, nokri milti bhi hai to jayada nhi din tikti hai,or mann bhi nhi lagta hai, please me kya kru jisse muje sthai nokri mile or mann bhi lage. plz answer mere e-mail par bhege...
dilip sen on 10 November, 2010 03:46:37
avatar
hum kaise pahchan sakte h ki koi bhi ratna assli h ya nakli kirpya answer mere id par bheje
RAMESH S GUPTA on 14 November, 2010 07:59:30
avatar
Hum kaise pahchan sakte h ki koi bhi ratna assli h ya nakli pls answer mere E-mail ID par bheje.Asali ratna ka cost kitana hona chahiye. iski salah ke liye me kisase contact karu.
RAMESH GUPTA on 14 November, 2010 08:02:06
avatar
Hum kaise pahchan sakte h ki koi bhi ratna assli h ya nakli pls answer mere E-mail ID par bheje.Asali ratna ka cost kitana hona chahiye. iski salah ke liye me kisase contact karu.
madhav prasad joshi on 30 November, 2010 04:10:20
avatar
ratna date of birth-15jan1971 1:45pm

Post your comment comment

Please enter the code you see in the image: