Home | सामुद्रिक | जरा गौर से देखिये अंगूठा (Have a careful look at your thumb)

जरा गौर से देखिये अंगूठा (Have a careful look at your thumb)

Font size: Decrease font Enlarge font
image जरा गौर से देखिये अंगूठा (Have a careful look at your thumb)

काफी पढ़े लिखे व्यक्ति को भी कई स्थानों पर अंगूठा लगाते हुए आपने देखा होगा। वास्तव में हमारी हथेली में अंगूठे का बहुत अधिक महत्व है, देखा जाय तो यह उंगलियों में राजा होता है। हस्तरेखा विशेषज्ञ तो यहां तक मानते है कि केवल अंगूठे को देखकर भी किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व और जीवन के बारे में बताया जा सकता है।

अंगूठे का प्रभाव और महत्व क्या है इस विषय पर चर्चा करने से पहले आवश्यक हो जाता है कि हम यह जानें कि अंगूठा कितने प्रकार का होता है। हस्तरेखा विज्ञान के जानकार बताते हैं कि जिस प्रकार हस्तरेखा सभी मनुष्य की अलग अलग होती है उसी प्रकार अंगूठे की संरचना, आकार, रंग एवं इनके पोर्स में भी अंतर होता है। अंगूठे के आकार प्रकार और संरचना से भी व्यक्तित्व पर काफी प्रभाव पड़ता है। तो आइये सबसे पहले हम जानें कि किसी के अंगूठे को देखकर उसका व्यक्तित्व हम कैसे समझ सकते हैं।

लम्बा अंगूठा (Lanky Thumb):
अगर आपके पास कोई व्यक्ति आता है जिसका अंगूठा लम्बा है तो उसके व्यक्ति के विषय में आप यह समझ सकते हैं कि इस व्यक्ति का मस्तिष्क यानी दिमाग काफी तेज चलता है। यह व्यक्ति अपनी बुद्धि से दुनियां में अपना मुकाम बनाने की योग्यता रखता है। लम्बा अंगूठा यह भी बयां करता है कि व्यक्ति अपने आप पर भरोसा करता है और अपनी क्षमता एवं गुणों से आगे बढ़ने का साहस रखता है, एक शब्द में कहें तो यह व्यक्ति का आत्मनिर्भर होना इंगित करता है। जिनका अंगूठा लम्बा होता है वे अपने आस पास के लोगों पर अपना प्रभाव बनाये रखने के इच्छुक होते हैं ये गणित और तकनिकी क्षेत्र में रूचि रखते हैं।  

छोटा अंगूठा (Short Thumb):
आप किसी व्यक्ति की हस्त रेखा देखकर उसके बारे में जब बता रहे हों तब यह गौर करना चाहिए कि उस व्यक्ति का अंगूठा छोटा तो नहीं है। अगर अंगूठा छोटा है तो आप कह सकते हैं कि व्यक्ति भावुक है। इस व्यक्ति के बारे में आप कह सकते हैं कि यह दिमाग से कम दिल से अधिक काम लेने वाला है अर्थात इनका निर्णय बुद्धिपरक नहीं वरन भावना परक होता है। यह व्यक्ति स्वतंत्र निर्णय लेने में अक्षम रहता है यह दूसरों के विचारों और सुझावों को मानकर कोई भी महत्वपूर्ण कदम आगे बढ़ाता है। आप इस व्यक्ति से यह भी कह सकते हैं कि आप संगीत, चित्रकला, लेखन, कविता, एवं दूसरे कलात्मक विषयों के प्रति लगाव रखते हैं।

कड़ा अंगूठा (Hard Thumb): 
हस्तरेखीय ज्योतिष कहता है, जब आप हाथ देखकर फल कथन करते हैं तब उस समय अंगूठे का विश्लेषण जरूर करना चाहिए। अंगूठा अगर सख्त या कड़ा लगे तो आप समझ सकते हैं कि जिस व्यक्ति का आप हाथ देख रहे हैं वह आपने प्रति यानी अपने हित के प्रति काफी सजग और सतर्क है और यह जो भी ठान लेगा वही करने वाला है यानी कह सकते हैं कि यह व्यक्ति जिद्दी है। यह व्यक्ति अपने व्यवहार में भावुकता तो लाना चाहता है परंतु ऐसा कर नहीं पाता है और अपने हित साधना में अच्छी तरह सोच कर कोई भी निर्णय लेता है और भावुकता को मस्तिष्क पर हावी नहीं होने देता।

कोमल और मुलायम अंगूठा (Soft Thumb): अंगूठे से व्यक्तित्व की विशेषता का आंकलन करते हुए जब हम किसी कोमल और मुलायम अंगूठे को देखते हैं तब उसके बारे में कह सकते हैं कि यह व्यक्ति परिस्थितियों के साथ बेहतर तालमेल बनाना जानता है। यह व्यक्ति मुश्किल हालातों में भी मुस्कुराने की कला से वाकिफ है। इस व्यक्ति के बारे में हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार यह भी कह सकते हैं कि यह अधिक से अधिक धन जमा करने का इच्छुक है, यह जानता है कि पैसा किस प्रकार बचाया जा सकता है।

आदर्श अंगूठा (Ideal Thumb): अगर किसी के अंगूठे का निरिक्षण करते हुए हम पाते हैं कि अमुक व्यक्ति का अंगूठा तर्जनी उंगली से अधिकोण बना रहा है अर्थात अंगूठा कलाई की ओर अधिक झुका हुआ है तो इस अंगूठे को आदर्श अंगूठा कहेंगे। यह अंगूठा तर्जनी से 90 से 180 डिग्री0 तक झुका होता है व लम्बा एवं पतला होता है। जिस व्यक्ति का अंगूठा ऐसा होता है उस व्यक्ति के विषय में यह कहा जा सकता है कि वे शांत प्रकृति के हैं, किसी भी स्थिति में अपने आप पर नियंत्रण रखते हैं व जल्दी क्रोध एवं आवेश में नहीं आते हैं। आमतौर पर जिनका अंगूठा ऐसा होता है वे कलाप्रेमी होते हैं।

सीधा अंगूठा(Straight Thumb): खम्भे की तरह सीधा अंगूठा जो तर्जनी उंगली से बिल्कुल 90 डिग्री का कोण बनता है उसे इस श्रेणी में रखा जाता है। सीधा अंगूठा मजबूत और गठीला प्रतीत होता है। इस प्रकार का अंगूठा जिनकी हथेली पर आप पाते हैं उनके विषय में कह सकते हैं कि ये काफी मेहनती हैं और मेहनत को ही अपना भगवान मानते हैं। जिनका अंगूठा ऐसा होता है उनके विषय में सामुद्रिक शास्त्र कहता है कि इनकी न तो दोस्ती भल है और न तो दुश्मनी इसलिए इनसे निश्चित दूरी बनाए रखना ही अच्छा है। ये छोटी छोटी बातों पर आवेश में आ जाते हैं और आवेश में बदले की भावना से दूध में आये उबाल की तरह उबलने लगते हैं परंतु कुछ ही पल में शांत हो जाते हैं।

न्यून अंगूठा(Acute Thumb): अंगूठे का एक प्रकार न्यून अंगूठा है। इस प्रकार के अंगूठे को न्यून अंगूठा इसलिए कहा जाता है क्योंकि यह तर्जनी उंगली की ओर झुका होता है और न्यूनकोण बनाता है अर्थात यह 90 डिग्री से कम होता है। इस अंगूठे का आकार सामान्य से कम और दिखने में बेडौल होता है। इस प्रकार का अंगूठा देखकर आप कह सकते हैं कि व्यक्ति के जीवन में निराशा भरा हुआ है यह अपने आप से परेशान और दु:खी रहता है। यह व्यक्ति अपने आलस्य के कारण कोई भी काम वक्त पर नहीं कर पाता है। जीवन में निराशा और असफलता के कारण ये असामाजिक तत्वों से निकटता कायम कर सकते हैं। परायी स्त्री के प्रति ये आकर्षित रहते हैं और निरर्थक बातों में अपना कीमती वक्त बर्बाद करते हैं। हस्तरेखीय ज्योतिष के अनुसार जिनकी हथेली में ऐसा अंगूठा होता है वे ईश्वर और धार्मिक गतिविधियों में कम रूचि लेते हैं और टोने टोटके, भूत, पिशाच, तंत्र-मंत्र, जादू के पीछे अपने दिमाग का घोड़ा दौड़ाते हैं।

नोट: पामेस्ट्री एडवांटेज की मदद से आप हस्त रेखा विज्ञान की बारीकियों को आसानी से सीख सकते है। यह ऐसा सॉफ्टवेयर है जिनमें बेहतरीन ग्राफिक्स की सहायता से विभिन्न हाथों के प्रकार, पर्वत, रेखा, चिन्हों एवं दूसरों तथ्यों का जिक्र किया गया है। आप इसे मात्र 175 रू0 में खरीद सकते है, क्लिक करें

Comments (4 posted):

Bharat kumar sharma on 02 February, 2009 07:54:09
avatar
jankari achhi lagi
smartpal on 09 February, 2009 03:02:56
avatar
THIS IS THE NICE WORK FOR THE UPLIFTMENT OF ANCIENT VEDIC LITRATURE OF THE HINDUS. I REALLY LIKE IT, IF ANYTHING I CAN DO THAN PLEASE TAKE MY SERVICES, I REALLY APPRICIATE THIS WORK.
Padam
chitra totwani on 24 April, 2009 05:36:14
avatar
hume apki jankari achi lagi n is jankari se hume apne thumb ki jankari sahi lagi
aabha on 15 December, 2009 05:56:00
avatar
jankari ache hai
agar photo ke saath hoti tho or achi hoti

Post your comment comment

Please enter the code you see in the image: