1. Posts tagged as: Part 2

भौतिक जगत में रोग का कारण कुछ भी हो लेकिन ज्योतिषीय मत के अनुसार रोग का कारण हमारी कुण्डली में स्थित ग्रह हैं। ग्रहों की स्थिति के अनुसार ही हम समय समय पर रोग से पीड़ित होते हैं।

और पढो »

हस्त रेखा विज्ञान में हथेली में प्रत्येक ग्रह के लिए एक निश्चित स्थान माना जाता है। हथेली में जो ग्रह जहां विराजमान होते हैं उस स्थान को उस ग्रह का पर्वत कहा जाता है।

और पढो »