तुला राशि के लिए शनि का कन्या प्रवेश (How will the transit of Saturn into Virgo impact Libra)



शनि के 10 सितम्बर को कन्या राशि मे आते ही तुला राशि के लिए शनि की साढेसाती आरम्भ हो गई है (When Saturn enters Virgo on 10th September, Sadesati will start for Libra Moonsign). शनि एक राशि मे ढाई साल रह्ते है. इस ढाई साल मे शनि तुला राशि से बारहवे घर मे रहेगे (Saturn will be in the 12th house from Libra for 2 1/2 years). कन्या राशि बुध की राशि है. बुध तथा शनि मे मित्रता के संबध है.

तुला मे शनि का पहला चरण (The First Phase of Sadesati For Libra)
शनि के कन्या राशि मे आने से तुला राशि के जातको का साढेसाती का पहला चरण आरम्भ हो जाता है. यह तुला राशि के लिए साढेसाती का पहला चरण है. तुला राशि वालो के लिए शनि की साढेसाती के आरम्भ के दो चरण सामान्य रुप से अच्छे रहते है (The first two phases of the Sadesati are not bad for Libra Moonsign). इस राशि के लिए शनि का अन्तिम चरण कुछ अच्छा नही कहा गया है. चरण से यहां अभिप्राय शनि के एक राशि मे रहने की ढाई साल की अवधि से है.

शनि तुला राशि मे चौथे व पांचवे घर के स्वामी होकर बारहवे घर मे स्थित है (Saturn is the lord of the fourth and the fifth Moonsign). इस घर मे शनि तुला राशि वाले व्यक्तियों के आराम पसन्द होने के संकेत दे रहा है. बारहवा घर मोक्ष प्राप्ति का भी है. इसलिए इस समय मे तुला राशि का रुझान धर्म के ओर अधिक हो सकता है.  शनि यहां से दूसरे, छ्ठे व नौवे घर को देख रहा है.

तुला राशि : अपनी वाणी व भोजन पर नियन्त्रण रखे. 
दूसरे घर को संचय, व परिवार का घर कहा गया है. इस समय मे तुला राशि के जातको के  संचय मे कमी हो सकती है. इस घर मे वृ्श्चिक राशि होने से व्यक्ति को अपनी वाणी व भोजन पर नियन्त्रण रखने का प्रयास करना चाहिए.  यह समय क्रोध करने के लिए भी सही नही है. कर्जो पर अधिक निर्भरता बाद मे जाकर आर्थिक स्थिति को प्रभावित करती है. तुला राशि के जातक अपने परिवार के सदस्यो के साथ अपने संबध मधुर रखे.

कानूनी क्षेत्रो मे जीत की संभावना
शनि की सांतवी दृ्ष्टि यहां से छठे घर पर रहेगी (Saturn is aspecting the Sixth house from its position). छठे घर से रोग, कर्ज व मामा-मौसी देखे जाते है. छठे घर मे मीन राशि है. इस घर को शनि का देखना मामा के साथ संबध मे तनाव पूर्ण बना रहा है. शनि का छठे घर को देखना कानूनी नियमो मे जीत प्राप्त होने की संभावना बना रहा है (Here Saturn signifies victory through legal means). अर्थात इस अवधि मे कोर्ट कचहरी के पक्ष से अच्छी सूचनाएं सुनने को मिल सकती है.

गुरुओ का सहयोग मिलेगा. 
अपनी दसंवी दृ्ष्टि से शनि तुला राशि के नवम घर को देख रहे है (Saturn is aspecting the ninth house from Libra by the 10th aspect). नौवे घर मे बुध की राशि मिथुन है. मिथुन राशि के स्वामी बुध को शनि अपना मित्र मानता है. इसलिए इस घर से मिलने वाले फलो मे शुभता रहेगी. इस समय विशेष मे तुला राशि वालो को अपने गुरुओ का आशिर्वाद प्राप्त होगा. व कानून-न्याय के कामो मे सफलता मिलेगी.

विदेश शिक्षा के लिए उतम समय
शनि का कन्या राशि मे प्रवेश तुला राशि के लिए बहुत बुरा नही रहेगा. इस समय शिक्षा ले रहे तुला राशि के जातको को इस समय मे शिक्षा के लिए विदेश जाने के अवसर मिल सकते है. शिक्षा पाने के लिए यह समय बेहतर है. इस मे व्यक्ति अगर मेहनत न करके आलस से काम लेता है तो परिणाम विपरित होगे.

 वैवाहिक जीवन के लिए कष्टकारी समय 
विवाहित व्यक्तियो के जीवन साथी के स्वास्थय के लिए यह समय अच्छा नही है. इस समय मे स्वास्थय मे होने वाली कमी को अनदेखा करना कष्ट को बढा सकता है. अपने जीवन साथी के साथ अपना विश्वास बनाये रखे. दूसरे घर से जीवन साथी को होने वाले लम्बी अवधि के रोग देखे जाते है. इस घर पर शनि की दृ्ष्टि होने से यहां रोग होने की संभावना बन रही है.

खर्चो मे अधिकता रहेगी. 
शनि यहां चौथे घर का स्वामी होकर बारहवे घर मे गोचर कर रहा है (Saturn is the lord of 4th house and transiting through 12th house) इसलिए व्यक्ति सुख सुविधाओ व मकान से जुडी योजनाओ पर व्यय करने का विचार बनाता है.  शनि यहां यात्राओ पर भी व्यय होने का संकेत कर रहा है. तुला राशि के व्यक्तियों को अपनी नौकरी बार बार नही बदलनी चाहिए. इससे पदोन्नती की संभावनाएं कम होती है.

Tags

Categories


Please rate this article:

1.50 Ratings. (Rated by 1 people)